---Advertisement---

आरबीआई अपडेट: नए आरबीआई नियम लागू! अब आप बैंक से एक साथ निकाल सकते हैं इतने पैसे, देखें पूरी कहानी

By
On:
Follow Us

आरबीआई अपडेट: नए आरबीआई नियम लागू! अब आप बैंक से एक साथ निकाल सकते हैं इतने पैसे, देखें पूरी कहानी

 

आज के डिजिटल युग में, हम में से अधिकांश लोग अपने दैनिक लेनदेन के लिए UPI या नेट बैंकिंग का उपयोग करते हैं। फिर भी कभी-कभी हमें बड़ी मात्रा में नकदी जमा करने या निकालने की आवश्यकता होती है। ऐसे में यह ध्यान रखना जरूरी है कि आयकर विभाग ने बचत खातों में नकद लेनदेन पर कुछ नियम लागू किए हैं।

इन नियमों का मुख्य उद्देश्य मनी लॉन्ड्रिंग, कर चोरी और अन्य अवैध वित्तीय गतिविधियों को रोकना है। फोर्ब्स की रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आप एक वित्तीय वर्ष में अपने बचत खाते में 10 लाख रुपये या उससे अधिक नकद जमा करते हैं, तो बैंक को इसकी सूचना आयकर विभाग को देनी होती है।

अगर आपके पास चालू खाता है तो सीमा बढ़कर 50 लाख रुपये हो जाती है. जहां तक ​​पैसे निकालने की बात है तो धारा 194एन के तहत नियम हैं। अगर आप एक वित्तीय वर्ष में अपने बचत खाते से 1 करोड़ रुपये से अधिक निकालते हैं तो 2 टीडीएस काटा जाएगा।

और अगर आपने पिछले तीन वर्षों में आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल नहीं किया है, तो भी 20 लाख रुपये से अधिक की निकासी पर 2 टीडीएस लगेगा। अगर ऐसे व्यक्ति ने एक वित्तीय वर्ष में 1 करोड़ रुपये निकाले हैं तो 5 टीडीएस काटा जाएगा.

लेकिन चिंता न करें, इस टीडीएस को आय नहीं माना जाता है। आप अपना आयकर रिटर्न दाखिल करते समय इसे क्रेडिट के रूप में उपयोग कर सकते हैं।

जमा के मामले में धारा 269ST अहम है. अगर कोई व्यक्ति अपने खाते में 2 लाख रुपये या इससे ज्यादा कैश जमा करता है तो उस पर जुर्माना लगाया जा सकता है. हालाँकि, यह जुर्माना केवल जमा पर लागू होता है, निकासी पर नहीं।

इन नियमों का पालन करना होगा. यह न सिर्फ आपको कानूनी पचड़े से बचाता है बल्कि देश की अर्थव्यवस्था को भी दुरुस्त रखने में मदद करता है। याद रखें, पारदर्शिता और ईमानदारी हमेशा सर्वोत्तम नीति होती है।

For Feedback - feedback@example.com
Join Our WhatsApp Channel

Leave a Comment